Friday, April 19, 2024
Google search engine
HomeLocalआचार संहिता लागू होने के पहले और होंगे बदलाव

आचार संहिता लागू होने के पहले और होंगे बदलाव

लोकसभा चुनाव की आचार संहिता लागू होने से पहले, गुना और शहडोल समेत कई जिलों के सीईओ, जिला पंचायत, और अपर कलेक्टरों को बदला जा सकता है। इनमें से कुछ अधिकारी लोकसभा क्षेत्र में तीन साल के कार्यकाल के दौरान, या चुनाव की दृष्टि से प्रशासनिक और राजनीतिक जमावट में बदले जा सकते हैं।

गुना के कलेक्टर अमनवीर सिंह बैंस और गुना व अशोकनगर में पदस्थ सीईओ जिला पंचायत प्रथम कौशिक और नेहा जैन के स्थानांतरण की संभावना है। गुना व अशोकनगर सीईओ जिला पंचायत आईएएस हैं और दोनों ही पति-पत्नी हैं। लोकसभा क्षेत्र में प्रथम कौशिक का कार्यकाल लगभग तीन साल का है, जो चुनाव आयोग के निर्देशों के तहत देखा जा रहा है।

गुना बस हादसे के बाद, कलेक्टर अमनवीर सिंह बैंस ने सार्वजनिक तौर पर इसकी पुष्टि की है कि वे यहाँ से चले जाएंगे। इसके बाद, केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन में लापरवाही पर फटकार लगाई थी।

सूत्रों के अनुसार, अब बैंस यहाँ एक्टिव हैं और उनकी पत्नी का तबादला भी गुना हो गया है। इसके अलावा, अन्य कई जिलों में भी अधिकारी जिनके कार्यकाल की समाप्ति हो गई है, उन्हें भी हटा जा सकता है।

पिछले तीन दिनों में, राज्य शासन ने सात जिलों के कलेक्टर और दो जिलों के पुलिस अधीक्षक बदले हैं। इसमें विदिशा, उमरिया, रतलाम, दमोह, झाबुआ, सीधी कलेक्टरों के तबादले शामिल हैं। इसके अलावा, ग्वालियर और इंदौर संभागायुक्त का स्थानांतरण भी किया गया है। ग्वालियर एसपी को हटाया गया है और खरगोन एसपी को ग्वालियर की जिम्मेदारी सौंपी गई है। खरगोन में नए एसपी की पोस्टिंग अभी बाकी है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments