Tuesday, July 23, 2024
Google search engine
HomeLocalप्रदेश को आज मिलेंगी दो नई हवाई सेवा की सौगात

प्रदेश को आज मिलेंगी दो नई हवाई सेवा की सौगात

प्रदेश में धार्मिक स्थलों तक आवागमन सुगम बनाने और कम समय में पहुंचाने को लेकर राज्य सरकार की पीएमश्री धार्मिक पर्यटन हेली सेवा और पीएमश्री पर्यटन वायु सेवा आज से शुरू हो रही है। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव इस सेवा की शुरुआत करेंगे।

इस सेवा के शुरू होने से पर्यटन स्थलों और दूरस्थ धार्मिक स्थलों तक पहुंचना आसान हो जाएगा। सीएम इस मौके पर मुख्यमंत्री पर्यटन वायु सेवा भी करेंगे। दोनों ही सेवाओं की शुरुआत स्टेट हैंगर पर राज्य स्तरीय कार्यक्रम में होगी। इसमें पर्यटन, संस्कृति और धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धर्मेन्द्र लोधी भी उपस्थित रहेंगे।

टेस्ट फ्लाइट के बाद तय होंगे रूट

प्रमुख सचिव पर्यटन और संस्कृति एवं प्रबंध संचालक म.प्र. टूरिज्म बोर्ड शिव शेखर शुक्ला ने बताया कि यह सेवा सभी एयर स्ट्रिप के लिए लागू की जा रही है। गुरुवार को इनागरेशन होगा और टेस्ट फ्लाइट होगी। इसके बाद जहां-जहां सुविधाएं शुरू होंगी, इसके लिए किराए और अन्य शर्तों पर चर्चा कर उसे लागू किया जाएगा। शुक्ला ने कहा कि मध्यप्रदेश टूरिज्म बोर्ड द्वारा पर्यटन वायु सेवा का संचालन पीपीपी मोड पर किया जाएगा। शुरुआत में 8 सीटर वाले 2 ट्विन इंजन एयरक्राफ्ट चलाये जाएंगे। इसके लिए चिन्हित ऑपरेटर द्वारा प्रदेश के प्रमुख हवाई अड्डों इंदौर, जबलपुर, ग्वालियर, भोपाल, खजुराहो के साथ-साथ हवाई पट्टियों में से रूट का चयन किया जाएगा। इससे पर्यटकों को आसान यात्रा का माध्यम मिलेगा और साथ ही घरेलू पर्यटन में भी वृद्धि होगी।

इन धार्मिक व पर्यटन स्थलों के लिए शुरू हो सकती है सेवा

राज्य सरकार द्वारा शुरू की जा रही इस सेवा से चित्रकूट, मैहर, सलकनपुर, बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन, ओंकारेश्वर, नलखेड़ा, ओरछा, सीहोर गणेश चिंतामन, दादा जी धूनी वाले, देवास की मां चामुंडा टेकरी, दतिया का पीतांबरा पीठ, मुरैना का शनिश्चरा, रतनगढ़ वाली माता मंदिर समेत अन्य धार्मिक स्थलों पर लोगों को आवागमन की सुविधा मिल सकेगी।

इसके अलावा बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व, कूनो नेशनल पार्क, माधव नेशनल पार्क, कान्हा टाइगर रिजर्व, सतपुड़ा टाइगर रिजर्व, संजय डुबरी टाइगर रिजर्व सीधी, पेंच टाइगर रिजर्व, नौरादेही अभ्यारण्य, रातापानी अभ्यारण्य, खजुराहो, पचमढ़ी समेत अन्य पर्यटन स्थलों पर भी इन सेवाओं के शुरू होने से लोगों को आसानी होगी और सरकार का पर्यटन राजस्व बढ़ेगा।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments