Tuesday, July 23, 2024
Google search engine
HomeNationalतेलंगाना CM पर कांग्रेसी दलित नेताओं से भेदभाव का आरोप

तेलंगाना CM पर कांग्रेसी दलित नेताओं से भेदभाव का आरोप

तेलंगाना CM पर कांग्रेसी दलित नेताओं से भेदभाव का आरोप:यदाद्री मंदिर में वे स्टूल पर बैठे; दलित डिप्टी सीएम और महिला नेता को नीचे बिठाया

तेलंगाना के मुख्यमंत्री रेवंत रेड्‌डी और उनके सहकर्मी मंत्रियों पर उनकी पार्टी, कांग्रेस, के दलित नेताओं से भेदभाव करने का आरोप लगा है। सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दिखाया गया है कि एक मंदिर में वे कुर्सी पर बैठे हैं, जबकि दलित नेता डिप्टी सीएम मल्लू भट्‌टी विक्रमार्का और वन-पर्यावरण मंत्री कोंडा सुरेखा नीचे बैठी हैं।

वीडियो के सामने आने के बाद से तेलंगाना के मुख्यमंत्री पर आलोचना हो रही है। भारतीय राष्ट्रीय समिति ने एक पोस्ट के माध्यम से कर्नाटक की कांग्रेस सरकार पर दलित नेताओं का अपमान करने का आरोप लगाया है। बताया जा रहा है कि यह मंदिर नलगोंडा जिले का यदाद्री मंदिर है।

बीआरएस ने कहा, “रेवंत रेड्‌डी ने दलित डिप्टी सीएम को नीचा दिखाया।” वीडियो के साथ भारतीय राष्ट्रीय समिति ने लिखा, “मुख्यमंत्री और उनके साथियों ने यदाद्री मंदिर में दर्शन के दौरान डिप्टी सीएम मल्लू भट्‌टी विक्रमार्का का बुरी तरह अपमान किया। रेवंत रेड्‌डी, कोमाटीरेड्‌डी वेंकट रेड्‌डी और उत्तम कुमार रेड्डी ने विक्रमार्का से ऊपर बैठकर उन्हें नीचा दिखाया।”

मल्लू भट्‌टी विक्रमार्का कौन हैं?
मल्लू भट्‌टी विक्रमार्का तेलंगाना के पहले दलित डिप्टी सीएम हैं। पिछले साल दिसंबर में राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने पर उन्होंने रेवंत रेड्‌डी कैबिनेट में मंत्री पद की शपथ ली थी। डिप्टी सीएम बनने से पहले विक्रमार्का तेलंगाना विधानसभा में विपक्ष के नेता रह चुके हैं। वे 2009 और 2014 में विधानसभा चुनाव जीते थे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments